SEO क्या है, ये क्यों महत्वपूर्ण है, और ये कितने प्रकार का होता है? - Complete Guide 2021

SEO ki Sampurn Jaankaari Hindi Me
Table of Content

स्वागत है दोस्तों आप सब का हमारे Blog, AmanPotlia.Com पर और आज हम बात करेंगे Digital Marketing, Blogging, और Affiliate Marketing के सबसे चर्चित विषय SEO के बारे में | आज तक आपने बहुत सारे लोगों से यह सुना होगा की SEO से आप Traffic, Rankings, और Earnings आदि को बढ़ा सकते हो | हर कोई आपको इसके बारे में अलग-अलग राय देगा, इसके अलग-अलग तरीकों के बारे में बताएगा और तो और आपको काफी सारे Tools का भी Suggestion देगा की उनसे आप किस प्रकार SEO कर सकते हो | 

किन्तु आजकल इंटरनेट और YouTube पर काफी सारे लोग है जो आपको इसके बारे में अधूरी जानकारी देंगे या फिर आपको बस अपने Courses खरीदने को बोलेंगे | किन्तु अगर आपको सही से जानना है की SEO क्या है, ये कैसे काम करता है, इसके फायदे क्या है और आप इसको 2021 में कैसे कर सकते है तो मेरे इस Article को पूरा पढ़ें | इसमें मैं आपको SEO से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में दूंगा और वो भी बिना किसी ख़र्च के | 

यहाँ पर मैं आपको जो भी जानकारी दूंगा वो 2021 की Search Engine Guidelines के अनुसार होगी और आप इनका इस्तेमाल बिना किसी समस्या के अपनी और अपने Clients की Website को Rank करवाने के लिए कर सकते है | तो चलिए फिर हम सबसे पहले SEO क्या होता है से शुरू करते है, जो की सबसे Basic Topic और सबसे ज्यादा पूछे जाने वाला सवाल है | 

SEO क्या होता है?

SEO का मतलब होता है Search Engine Optimization, या साधारण शब्दों में कहूं तो Search Engine के अनुसार वेबसाइट या ब्लॉग को अनुकूलित करना ताकि वो हमारे ब्लॉग/वेबसाइट को आसानी से Crawl कर सकें और उस पर जो जानकारी है उसे समझकर उसे index और उसे अपने Search Result Page पर Rank/List कर सके | 

इसके नाम को सुनकर ऐसा लगता है की इसमें हमें Search Engine को Optimize करना होगा किन्तु वास्तव में ऐसा कुछ भी नहीं है | इसका पूरा मतलब और सही मतलब है Optimization For Search Engine मतलब अपनी Website/Blog में Search Engines की Guidelines (दिशानिर्देशों) के अनुसार बदलाव करना ताकि हमारी Website के पेज को बढ़िया तरीके से Crawl कर सके, उस पर दी गयी जानकारी को समझ सकते, हमारी Website के Structure को समझ सके और उनके Users के द्वारा की जाने वाली Searches के आधार पर हमारी Website और उसके Content को एक बढ़िया Position पर Rank कर सके | 

तो अब तो आप समझ ही गए होंगे की SEO क्या होता है |  तो अब इसके बाद हम अपने अगले सवाल की SEO क्यों महत्वपूर्ण है की तरफ रुख करते है | 

SEO क्यों महत्वपूर्ण होता है?

तो यहाँ पर मैं निचे कुछ Points दे रहा हूँ जो की आपको Clear कर देंगे की SEO किसी भी Website या Blog के लिए क्यों महत्वपूर्ण होता है | इनको ध्यान से पढ़ें तभी आपको पता चलेगा की SEO Directly या Indirectly किसी भी Website या Blog की Success को किस प्रकार प्रभावित करता है | 

1.  SEO आपको Search Engine Results के Page पर अच्छी Position दिलवाता है 

SEO का सबसे पहला और महत्वपूर्ण फायदा यही है की ये आपको Search Engine के Results Page पर अच्छी Position दिलवाने में सहायता करता है | किसी भी Website के लिए Search Engine Results के पहले Page पर List होने अच्छी और फायदे की बात होती है | इसके अतिरिक्त पहले Page पर केवल पहली 5 Position को ही सबसे बेहतर समझा जाता जा क्योंकि Organic Search से आपने वाले Traffic का सबसे ज्यादा हिस्सा उन्ही 5 को मिलता है | एक Research के अनुसार, जो Website पहले Page पर पहली Position पर होती है, वो Organic Search का तक़रीबन 34% हिस्सा प्राप्त करती है और उसके बाद दूसरे स्थान वाली को तक़रीबन 17% ही मिलता है | 

SEO आपकी Website को इन पहली 5 महत्वपूर्ण Positions पर Rank और List करवाने में मदद करता है | 

2. SEO आपके Traffic को बढ़ाने में मदद करता है 

SEO में हम काफी सारी Promotional Activates करते है, जिससे की हमें काफी सारे अच्छे लिंक्स मिल सके और हमारे Articles को ज्यादा से ज्यादा Reach मिल सके | जो की आपको काफी सारे Sources से Traffic लेने में सहायक है और इसी के साथ SEO के कारण हमारी Website Search Engines में High Position पर Rank करता है जिससे की हमारा Organic Traffic Boost होता है | इनके कारण हमारे Blog/Website पर Daily High Traffic आता है जो की हमारी Website की Authority, Ranks और  Income को बढाता है और आपको अपने Goals को Achieve करने में मदद करता है | 

3. SEO आपके Brand के Trust और Credibility को बढाता है 

SEO की वजह से आप अपनी Website को आपकी Industry के Top Players की List के बीच में Google और अन्य Search Engines पर Rank करवा सकते हो | इससे उनके Customers को भी आपके बारे में पता चलता है और Top और Authority वाली Websites जो की आपकी Industry से सम्बंधित है उनसे लिंक्स होने के कारण ये Google की नजरों में आपकी Credibility को बढ़ाता है और उनको ये समझने में मदद करता है की आपके Products और Services क्या है और आपकी वेबसाइट को कहाँ-कहाँ List करना है |  इसी के साथ SEO के दौरान On-Page Optimization के दौरान, Broken Link के Remove होने के कारण, Navigation Structure के Optimize के कारण और Website की Speed Optimization के कारण User Satisfaction बढ़ता है, जो की User Trust को बढ़ाता है |  

जैसा की हम जानते है की किसी भी User को Google से अपनी Website पर लेके आना एक अलग बात है और उनको अपनी Website पर काफी समय तक रोककर रखना और उनको दोबारा अपनी Website पर बुलाना तथा उनको सिर्फ एक User से Customer बनाना एक अलग बात है | SEO आपकी इन सभी में मदद करता है, परन्तु इसके लिए आपको SEO पर काफी समय लगाना होगा | 

4. SEO के जरिये आप अपने Local Customers को बेहतर Target कर सकते है 

SEO के द्वारा आप केवल अंतरराष्ट्रीय उपयोगकर्ताओं/ग्राहकों को ही लक्षित नहीं कर सकते हो अपितु ये आपको आपके नजदीकी क्षेत्र के Customers को भी Target कर सकते है | इसके लिए आपको अपनी Website के Keywords को अपने Local Area के अनुसार Optimize व चयन करना होगा | 

उदाहरण के लिए, मान लीजिये आपको अपने आस-पास के लोगों के अपने Business की तरफ आकर्षित करना है तो इसके लिए आपको सबसे पहले अपने GMB Listing को अपनी Local Search Queries के अनुसार Optimize करना होगा | इसके अतिरिक्त अन्य Platforms, जैसे की Bing Places, Yola Pages और अन्य Platforms द्वारा प्रदान किये जाने वाले Business Listings वाले Platforms को Optimize करना होगा | 

इसके ऊपर भी हम एक अलग Posts की Series बनाएंगे, जो आपको आने वाली Posts में मिलेंगी और उनके Links आपको यहाँ निचे मिल जाएंगे |

5. SEO आपकी Website के Users Experience और Navigation को बेहतर बनता है 

अब जो ये Point है, ये एक Doubtful Point है | काफी सारे Experts के अनुसार SEO किसी भी Website को Users के अनुसार बेहतर बनाने में मदद करता है और कुछ Experts इससे सहमत नहीं है | किन्तु मेरे अनुसार ये मदद करता है | मान लीजिये, में अपने Blog में Navigation Breadcrumbs का इस्तेमाल करूँ या नहीं ये मेरी मर्जी है, किन्तु यदि मैं अपनी Website को पूर्णतया SEO Optimized करना चाहता हूँ तो मुझे इसमें Schema के साथ Breadcrumbs को जोड़ना होगा ताकि Google Crawlers अच्छी तरह से मेरी Websites को Crawal कर सके और वो मेरी Website के Stracture और Categories के साथ Posts के Relationship को बेहतर ढंग से समझ सके | इसी तरह से Content Table को भी ले सकते हो जो User को Posts के विभिन्न भागों को बिना पूरी Post को पढ़े आवश्यक Part को खोजने में मदद करती है | और अगर हूँ ज्यादा गहराई में बात करें तो SEO के कारण ही हम अपनी Website में Schema, Speed Optimization, व Interlinks जैसी चीजों को बेहतर करते है | 

तो इससे आप खुद समझ सकते है की SEO किस प्रकार से User Experience और Navigation को बेहतर बनता है |  तो ये थे कुछ महत्वपूर्ण Points जो आपको ये समझने में मदद करेंगे की SEO क्यों महत्वपूर्ण है किसी भी Website के लिए | तो चलिए अब चलते है हमारे अगले Topic की और जो की है की SEO कितने प्रकार का होता है | 

SEO कितने प्रकार का होता है?

तो यहाँ पर अलग-अलग Experts की राय अलग-अलग है | इसके प्रकार इसके करने के तरीक़े, इसके तत्वों और इसके लिए किये जाने वालों कार्यों के अनुसार अलग-अलग होता है | तो सबसे पहले बात करते है, इसके दो सबसे प्रसिद्ध प्रारूपों की, जो की किये जाने वाली प्रक्रिया के आधार पर तय किये गए है | 

प्रक्रिया के आधार पर SEO के प्रकार 

प्रक्रिया के आधार पर आप SEO के दो प्रकार निर्धारित कर सकते हो | इनमे से पहला है, White-Hat SEO और दूसरा है Black-Hat SEO.  ये दोनों हो काफी प्रचलित तरीके है SEO करने के और इनको लेकर भी काफी मतभेद है | इनके अतिरिक्त एक और भी है, जिसको Grey-Hat SEO कहा जाता है मगर कोई भी इसको लेकर सभी को अब तक पूर्णतया सहमत नहीं कर पाया | मगर आप चिंता ना करें, आपको इनकी Basic जानकारी निचे मिल जायेगी | 

1. White-Hat SEO 

ये SEO का सबसे प्रशिद्ध व सबके द्वारा बिना किसी हिचकिचाहट के स्वीकार किये जाने वाला SEO का प्रकार है | इसमें Google व अन्य Search Engines के द्वारा जारी की गयी Guidelines को Follow किया जाता है और इसमें कोई भी ऐसा काम नहीं किया जाता जो की Search Engine की Guidelines को तोड़े | इसमें सबसे ज्यादा On-Page SEO को महत्व दिया जाता है और Outreaching के द्वारा एक Website की Rank बढ़ाने की कोशिश की जाती है |  इसमें High-Quality व जानकारीयुक्त Articles लिखना, Guest Post व Search Engines द्वारा निर्धारित की गयी Guidelines के अनुसार Backlink बनाना, URL व Titles को Optimize करना, Website को बेहतर व तेज बनाना और पुरानी जानकारीयों को Update करके अच्छी Rank प्राप्त करना इत्यादि शामिल है | 

इसका Results देखने में आपको समय लगेगा और अगर केवल आप इसी का इस्तेमाल करके अपनी Website को अच्छी Position पर Rank करवाते है, तो आपको भविष्य में आने वाली Google Algorithms Update से भी कोई खतरा या परेशानी नहीं होगी | मगर Search Engine की सभी Guidelines का पालन करके किसी भी Website को Rank करवाना काफी मुश्किल व समय लेने वाला काम है | ये सबसे बेहतरीन SEO का प्रकार है जो किसी भी Website को भविष्य में भी काफी अच्छी Position पर बनाये रखने में सक्षम है | 

2. Black-Hat SEO 

अब ये कुछ अलग ही प्रकार का SEO है | इसमें Google की कुछ Guidelines को तोड़कर Website की Rank को Increase किया जाता है | इसमें वो हर आपत्तिजनक कार्य किया जाता है, जिससे की कम समय में Website की Rank व Authority तेजी से बढ़ें | इसमें बहुत सारे Comments Backlinks बनाना, Articles में Hidden Text उपयोग करना, Backlinks को खरीदना, PBN उपयोग करना और Backlinks Tools का उपयोग करना शामिल है |  वैसे भी कुछ SEO Experts और Google के कर्मचारियों के अनुसार Black-Hat SEO जैसा कुछ नई होता | उनके अनुसार "या तो ये SEO होगा या फिर ये Search Engine Spamming होगी | 

पर कुछ भी हो इससे एक बार के लिए Websites तेजी से Rank तो करती है किन्तु किसी भी Update के बाद या कुछ समय बाद वो उतनी ही तेजी से Google की Penalty की चपेट में भी आ जाती है | 

3. Grey-Hat SEO 

ये Concept कुछ अलग है | इसमें जो अति आवश्यक Google और अन्य Search Engines की Guidelines है उनको तो Follow किया जाता है किन्तु कुछ एक ऐसी प्रक्रियाएं जो Rankings को तो High करती है मगर Google ने उनके लिए कोई Penalty की घोषणा नहीं कर रखी उनको तोड़कर जल्द से जल्द High Rank प्राप्त की जाती है |  इसमें Web 2.0 का जाल और उन पर Link Spamming, Blogging Chain Method और अन्य कई ऐसी प्रकियाओं  को शामिल किया जाता है | ये किसी भी नए SEO Expert या SEO में नए व्यक्ति के लिए नहीं है | क्योंकि इसमें हुए एक गलती आपकी Business Website की Ranking को खतरे में डाल सकती है | इसे केवल Experienced SEO Expert ही कर कर सकते है | 

तो ये थे SEO के कुछ प्रकार जो प्रक्रिया के आधार पर बनाये गए थे | अब हम SEO के क़दमों व उनके किये जाने वाले स्थान के अनुसार SEO के प्रकार के बारे में जानेंगे | 

किये जाने वाले स्थान व क़दमों के अनुसार SEO के प्रकार 

अब निचे हम SEO के लिए जाने वाले स्थानों अनुसार और उनको करने के लिए Follow किये जाने वाले क़दमों के अनुसार SEO के प्रकार पर चर्चा करेंगे | ये भी SEO के प्रकार है और इनसे हर Expert सहमत है | हर कोई इन्हे अहमियत देता है और इन सभी पर ध्यान देता है किसी भी Website का SEO करते वक़्त | तो चलिए जानते है इनके बारे में | 

1. On-Page SEO:

तो इनमे सबसे पहले आता है On-Page SEO, ये SEO का वो प्रकार है जो पूर्णतया हमारे काबू में होता है, हम इसमें जब चाहे जरुरी बदलाव कर सकते है | इसको On-Page के नाम से जाना जाता है क्योंकि इसमें जो भी किया जाता है वो हमारी Website पर होता है | इसमें केवल Website के Layout, Navigation, Content-Quality, Keywords Ratio, Heading, Titles, URL, इत्यादि तत्वों को शामिल किया जाता है | इसमें किसी भी Particular Post को Rank करवाने के लिए जो बदलाव किये जाने चाहिए वो किये जाते है | इसको कैसे किया जाता है, इसको करते समय किन बातों का ध्यान रखें, इनकी जानकारी के लिए हम जल्द ही आपको इससे सम्बंधित एक सम्पूर्ण Guide दे देंगे | उसका Link आपको यहाँ पर निचे मिल जाएगा | 

2. Off-Page SEO 

ये SEO का वो प्रकार है जो कुछ हद तक हमारे हाथ में होता है, किन्तु हम इसको पूरा Control नहीं कर सकते On-Page SEO की तरह | ये भी उतना ही महत्वपूर्ण है, जितना की On-Page SEO. ये Google को Websites को ढूंढ़ने, उसकी Related Websites का पता लगाने, आपकी Websites को सही Rank प्रदान करने में मदद करता है | इसमें वो सभी कार्य आते है जो हम अपनी Website के अलावा अन्य Websites और Platforms पर करते है, जिससे की हमारी Website को ज्यादा से ज्यादा Reference और Link Juice मिले और वो बेहतर Position पर Rank करें | इसमें Backlinks बनाने और Promotional गतिविधियों को शामिल  किया जाता है | इससे सम्बंधित सम्पूर्ण Guide भी आपको हमारी आने वाली Posts में मिल जायेगी और आपको उनका Link यहाँ निचे मिल जाएगा | 

3. Technical SEO 

अब ये SEO का वो प्रकार है, जो किसी भी Website के Technical Management से जुड़ा होता है | इसमें कई बार किसी Website को Search Engine की Guidelines के अनुरूप बदलाव करने के लिए Websites के कुछ Codes को Change करना पड़ता है | ये Change कुछ Codes को हटाना या नए Codes को जोड़ना भी हो सकता है | इसके अतिरिक्त Website में Schema Integrate करना, Permalinks जोड़ना और उनका Layout Design करना, Table of Content डालना और उसको भी Design करना, Website में से Unwanted Codes को Remove करना और JS Files और CSS Files को Optimize करना तथा Websites के लिए Cache Generate करना और Reverse Proxy जैसी चीजों को स्थापित करना इत्यादि शामिल है | 

इन सबको करने के लिए या तो आपको WordPress Plugins का उपयोग करना होगा (यदि आप WordPress का उपयोग करते है तो) अन्यथा आपको किसी Developer को पैसे देकर आपको अपनी Website में ये बदलाव करवाने होंगे | SEO के इस प्रकार में मुख्यता Technical Changes पर ही ध्यान दिया जाता है जिससे की Website की Rankings Improve हो | 

इससे सम्बन्धित सम्पूर्ण Guides भी आपको कुछ दिनों में यहाँ पर मिल जायेगी | 

4. Local SEO 

अब ये SEO सभी छोटे और बड़े Businesses के लिए कारगर है | इसमें अपने आस-पास के Local Area में खोजे जाने वाली Queries के अनुरूप अपनी Websites व अन्य Platforms जैसे की Google My Business, Bing Places इत्यादि को Optimize किया जाता है | ये Search Engine Optimization की वो Strategy है जिसे किसी Business को उसके Local Search Results में ज्यादा से ज्यादा Visibility दिलवाने के लिए उपयोग किया जाता है | कोई भी ऐसा व्यवसाय जिसका कोई एक निर्धारित स्थान हो (दुकान या ऑफिस) और वो केवल एक तय सीमा तक ही अपने सामान और सेवाओं की आपूर्ति करता हो, वह Local SEO से अधिकतम लाभ कमा सकता है | इसमें मुख्यता Local Queries पर उस Business की Website को Rank करवाना और विभिन्न Maps पर उस व्यवसाय को Verify करवाना है | 

इसके बारे में भी सम्पूर्ण Guide आपको जल्द उपलब्ध करवा दी जायेगी | 

5. Negative SEO 

अब ये SEO वो है जो कोई भी अपनी Website पर नहीं करना चाहता किन्तु उसके Competitors उसे ये SEO फ्री में करके तोहफे में देते है | इसका उपयोग किसी भी Website को Outrank करने या उसे Google से Penalize करवाने के लिए किया जाता है | इसमें Spammy Backlinks बनाना, Negative Reviews Submit करना, किसी भी Spammy Domain को अपने Competitors की Website पर 301 Redirect करना इत्यादि शामिल है | ये सब किसी भी Business Websites और उस Business की Reputation को नुक्सान पहुंचा सकते है | 

आमतौर पर इसमें सभी Black-Hat SEO की किर्याओं को शामिल किया जाता है बस फर्क इतना होता है की ये Website के Owner द्वारा बेतरीन Rank पाने के लिए नहीं अपितु उसके Competitors के द्वारा उस Website की Rankings को ख़त्म करने के लिए किया जाता है |  

तो ये थे SEO के कुछ प्रकार जो की वर्तमान में Internet पर छाए हुए है | 

SEO से सम्बन्धित कुछ प्रश्न व उनके उत्तर

तो अब जब आपको SEO क्या है, ये क्यों महत्वपूर्ण है और इसके प्रकार कितने है इसकी जानकारी मिल चुकी है किन्तु फिर भी आपके कोई प्रश्न है तो आप निचे दिए गए कुछ प्रश्न व उत्तरों के द्वारा उनका हल प्राप्त कर सकते हो | 

SEO क्या है और ये कैसे काम करता है?

SEO का मतब होता है Search Engine Optimization और ये Digital Marketing की एक Strategy है जो की Search Engines के Result Page पर आपकी Website की Visibility को बढ़ाने के लिए प्रयोग की जाती है, जैसे की Google, Bing इत्यादि |  इसमें उपयोग की जाने वाली विभिन्न युक्तियाँ आपकी Website को खोज परिणामों में High Visibility को प्राप्त करने में मदद करता है | 

SEO क्यों महत्वपूर्ण है?

SEO आपकी Website की Rank को बेहतर करके आपके Products और Services की Visibility को बढ़ाता है | ये आपके Organic Traffic को Improve करता है | और आपके Business की Brand Value और Trust को बढ़ाता है जो की आपको ज्यादा से ज्यादा Customers को जोड़ने व Business के Profits और Revenue को बढ़ाने में मदद करता है | 

SEO कितने प्रकार का होता है?

अगर सामान्यत देखा जाए तो SEO चार (4) प्रकार का होता है:

  1. On-Page SEO 
  2. Off-Page SEO 
  3. Technical SEO 
  4. Local SEO 

तो ये थे SEO से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न व उनके उत्तर | 

सारांश:

उम्मीद करता हूँ हमारे इस Article ने आपको SEO क्या होता है, ये क्यों जरुरी है और इसके कितने प्रकार है के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की होगी | अगर अब भी आपके कुछ Doubts है तो आप उन्हें निचे Comment कर सकते है | हम जल्द से जल्द उनका समाधान करने की कोशिश करेंगे |

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे Share करना ना भूलें और ऐसी ही और जानकारीयों के लिए हमारा ईमेल Newsletter जरूर Subscribe करें |  

To Read This Post In English, Visit - What Is SEO? Its Type And Importance?

Leave A Comment